विशिष्ट आयोजन
आचार्य विनोबा भावे एवं महादेवी वर्मा के मुख्य आतिथ्य में हिन्दी की वैज्ञानिक और तकनीकी पुस्तकों की राष्ट्रीय प्रदर्शिनी का आयोजन सन्‌ १९५८ में। Back

समिति से जुड़े प्रबुद्वजनों ने बहुत पहले यह महसूस कर लिया था कि देश विज्ञान और तकनीकी के क्षेत्र में तभी तीव्रता से आगे बढ  सकता है जब इस क्षेत्र में शिक्षा हिन्दी के माध्यम से दी जाए. इसी विचार के तहत सन्‌ १९५८ में समिति ने हिन्दी में लिखी वैज्ञानिक और तकनीकी विषयों की पुस्तकों की एक राष्ट्रीय प्रदर्शनी आयोजित की. इसमें सर्वश्री विष्णु प्रभाकर,महादेवी वर्मा, शिवमंगल सिंह सुमन और लोकसभा अध्यक्ष मा.वि.मावलंकर ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई थी।

Bookmark and Share

शताब्दी महोत्सव
फोटो और वीडियो