सुविख्यात लेखिका कृष्णा सोबती को श्रद्धांजलि

हमारे समय की स्थापित और सुविख्यात लेखिका कृष्णा सोबती का जाना हिंदी साहित्य की अपूरणीय क्षति है। उनका लेखन बहुआयामी है। अपने लेखन और वक्तव्यों से वे हमेशा चर्चित बनी रहीं। उनकी महत्त्वपूर्ण रचनाओं में सूरजमुखी अँधेरे के, ज़िंदगीनामा, दिलोदानिश, डार से बिछुड़ी, मित्रो मरजानी, यारों के यार, बादलों के घेरे, बुद्ध का कमंडल : लद्दाख आदि शामिल हैं।

समिति और वीणा परिवार की ओर से विनम्र श्रद्धांजलि ! 

- अरविन्द ओझा, प्रचारमंत्री












शहीदों को श्रद्धांजलि...

19 फरवरी को पुलवामा कश्मीर में हुए आतंकी हमले में हमारे देश के सैनिक शहीद हुए, जिससे सारा देश अवसाद में डूबा गया और उन्हें नमन कर रहा है। श्री मध्य भारत हिंदी साहित्य समिति इंदौर में मंगलवार 19 फरवरी को शहर की अनेक साहित्यिक संस्थाएं इन सैनिकों को श्रद्धा सुमन अर्पित करने हेतु एकत्र हुई। इस अवसर पर समिति के सभापति  पं. सत्यनारायण सत्तन, प्रधानमंत्री प्रोफेसर सूर्यप्रकाश चतुर्वेदी, अभ्यास मंडल के मुकुंद कुलकर्णी, डॉ सविता इनामदार, आलोक खरे, लेखिका संघ से मंजुला भूतड़ा, रामचंद्र अवस्थी ने अपनी कविता से देश के शहीदों को नमन किया। इस अवसर पर  डॉ जवाहर चौधरी, सूर्यकांत नागर, डॉ पदमा सिंह, अरविंद जवलेकर, सदाशिव कौतुक, अनिल त्रिवेदी, प्रकाश जोशी, देवकृष्ण सांखला, मोहन रावल, मुकेश इंदौरी, दिनेश तिवारी, गिरेंद्र सिंह भदौरिया, हरेराम वाजपेई, प्रदीप नवीन, प्रभु त्रिवेदी आदि साहित्यकारों ने श्रद्धा सुमन अर्पित किये।

- अरविन्द ओझा, प्रचारमंत्री





नि:शुल्क नेत्र परीक्षण

श्री मध्य भारत हिंदी साहित्य समिति, इंदौर में साहित्यिक कार्यक्रमों का आयोजन तो होता ही रहता है साथ ही सामाजिक सरोकार से भी संबंधित आयोजन किए जाते हैं। इसी क्रम में शनिवार 16 फरवरी को समिति में चेन्नई के सुप्रसिद्ध नेत्र चिकित्सक डॉ अग्रवाल द्वारा नि:शुल्क नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें दोपहर 12:00 से श्याम 4:00 बजे तक 130 से अधिक लोगों ने नेत्र परीक्षण कराया तथा परामर्श प्राप्त किए। शिविर का उद्घाटन समिति के लेखा विभाग प्रभारी श्री कमलेश पांडे के साथ प्रबंधकारिणी सदस्य कवि प्रदीप नवीन ने किया। परीक्षण में समिति के मंत्री हरेराम वाजपेई, देवकृष्ण सांखला के अलावा श्री उमेश पारेख, अनिल भोजे, राजेश शर्मा, हेमेन्द्र मोदी, सचिन तिवारी, राजेश  कुमायूं ने भी परीक्षण का लाभ लिया। समिति के प्रचार मंत्री अरविंद ओझा ने बताया कि साहित्य सेवा के साथ समाज सेवा का यह कार्यक्रम काफी सफल रहा और लोगों ने इसे सराहा। डॉक्टर अग्रवाल की टीम में विकास चौरसिया, दीपावली यादव, धनश्री फड़के, इमरान खान एवं गरिमा थापा के सहयोग से यह नेत्र शिविर काफी सफल रहा।

- अरविन्द ओझा, प्रचारमंत्री